जज बदले जाने के खिलाफ सत्येंद्र जैन ने खटखटाया सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा

मनी लॉन्ड्रिंग केस पिछले कई महीनों से जेल में बंद दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने अब सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है। ट्रायल जज को बदले जाने के HC के फैसले को चुनौती दी है।

मनी लॉन्ड्रिंग केस पिछले कई महीनों से जेल में बंद दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने अब सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है। ट्रायल जज को बदले जाने के खिलाफ हाई कोर्ट से निराशा मिलने के बाद उन्होंने सबसे बड़ी अदालत का रुख किया है। सर्वोच्च न्यायलय ने इस पर सुनवाई को सहमति दे दी है और मंगलवार को इस पर बहस होगी। एक अक्टूबर को दिल्ली हाई कोर्ट ने ईडी की अपील पर जज बदलने के फैसले में हस्तक्षेप से इनकार किया था।

इससे पहले 19 सितंबर को जिला जज ने विशेष जज गीतांजलि गोयल के समक्ष निचली अदालत की कार्यवाही पर रोक लगा दी थी। एजेंसी ने कुछ दलीलें देते हुए स्पेशल जज गीतांजलि गोयल द्वारा सुनवाई कर रहे मामले को ट्रांसफर करने की मांग की थी। इसे मंजूरी किए जाने के फैसले को सत्येंद्र जैन ने हाई कोर्ट में चुनौती दी थी। हालांकि, हाई कोर्ट में भी उन्हें निराशा हाथ लगी।

दिल्ली हाई कोर्ट ने सत्येंद्र जैन की याचिका को खारिज कर दिया था। न्यायमूर्ति योगेश ने कहा था कि प्रधान जिला और सत्र न्यायाधीश ने मामले को स्थानांतरित करते हुए सभी तथ्यों पर गौर किया और फैसले में हस्तक्षेप करने की कोई आवश्यकता नहीं हैं। उन्होंने कहा कि कुछ परिस्थितियों को देखते हुए ईडी को आशंका थी कि शायद न्याय न हो और उसका मानना है कि ऐसी आशंका को पक्षकार के नजरिए से देखना चाहिए। अदालत ने कहा, ”यहां सवाल किसी न्यायधीश की ईमानदारी का नहीं बल्कि एक पक्ष के मन में आशंका का है।”

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *