पूर्व मंत्री एसपी वेलुमणि के 26 ठिकानों पर छापेमारी, हिरासत में AIADMK के 7 विधायक

तमिलनाडु से बड़ी खबर सामने आई है। यहां के कोयंबटूर इलाके में प्रदेश के पूर्व मंत्री एसपी वेलुमणि के खिलाफ सतर्कता और भ्रष्टाचार निरोधक दस्ते यानी DVAC का बड़ा एक्शन देखने को मिला है। डीवीएसी ने वेलुमणि के ठिकानों पर ताबड़तोड़ छापेमारी की है। मिली जानकारी के मुताबिक, डीवीएसी चेन्नई, कोयंबटूर सहित 26 स्थानों पर पूर्व राज्य मंत्री एसपी वेलुमणि से जुड़े आरोपों के संबंध में तलाशी ले रहा है। पूर्व मंत्री पर आरोप है कि उन्होंने अपनी करीबी सहयोगी कंपनियों को अनुचित तरीके से निविदाएं देने में अपने आधिकारिक पद का दुरुपयोग किया था।

मंत्री पर इस एक्शन के खिलाफ उनके घर के बार एआईएडीएमके के कार्यकर्ता मौजूद हैं और विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। इसको लेकर तमिलनाडु पुलिस भी सख्त नजर आ रही है।

पुलिस ने छापेमारी के खिलाफ कोयंबटूर में राज्य के पूर्व मंत्री एसपी वेलुमणि के आवास के बाहर विरोध प्रदर्शन करने पर AIADMK के 7 विधायकों को हिरासत में ले लिया है। बताया जा रहा है कि, सात विधायकों के साथ-साथ कुछ कार्यकर्ता और समर्थकों भी हिरासत में लिया गया है।

ऐसा पहली बार नहीं हो रहा है, जब अन्नाद्रमुक के पूर्व मंत्री एसपी वेलुमणि पर शिकंजा कसा जा रहा हो। इससे पहले भी उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई हो चुकी है।

दो महीने पहले जुलाई में उनके करीबी सहयोगी चंद्रशेखर के परिसरों पर आयकर विभाग ने रेड की थी। बताया गया था कि उस वक्त 6 जगहों पर आयकर विभाग ने छापेमारी की थी। मकसद वेलुमणि के खिलाफ सबूत जुटाना था।

लगातार एक्शन में डीवीएसी
प्रदेश में लगातार डीवीएसी विभाग एक्शन में नजर आ र रहा है। इससे पहले राजधानी चेन्नई में राज्य के सतर्कता और भ्रष्टाचार निरोधक निदेशालय ने अलग-अलग मामलों में कार्रवाई की थी। इस दौरान कथित तौर पर घूस मांगने और लेने को लेने के चलते एक ग्राम प्रशासनिक अधिकारी (वीएओ) और राजस्व निरीक्षक (आरआई) को गिरफ्तार किया गया था।

BY ANJALI TIWARI

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *